जानें चिट्ठाजगत डॉटइन के बारे में — भाग एक

परीक्षण प्रविष्टियों की बौछारें एवं “आर सी मिश्रा के स्वागत” से अब तक चिट्ठाजगत अनजान नहीं रहा है। मिसिजीवी को धड़ाधड़ महाराज की “गोपनीय’ करतूत” पर शक तक हो चुका है। विस्फोट करने वाले संजय जी पूछते फिर रहें हैं “क्या आपने चिट्ठाजगत देखा“। मैं भी इस नवागंतुक पर कई प्रयोग कर चुका हूं एवं अगले कुछ दिनों में आप को परत दर परत इस की खूबियाँ दिखाऊँगा।

मुख्य रूप से आप चिट्ठाजगत पर ये सब कर सकते हैं

विस्तृत चिट्ठा खोज
आप पाँच विकल्पों “पूर्ण प्रविष्टि”, “प्रविष्टि शीर्षक”, “प्रविष्टि विवरण”, “चिट्ठाकार”, “चिट्ठा शीर्षक” में खोज सकते हैं। आप खोज को दो
तारिखों में सीमित भी कर सकते हैं।

पसंदीदा/सूचक सूची
लाल दिल बटन दबाएँ और लेख, चिट्ठे को पसंद सूची में जोड़ें।,
हरी घण्टी दबाएँ और चिट्ठे, सांकेतिकशब्द को सूचक सूची में जोड़ें।
पसंदीदा “चिट्ठा सूची”,
पसंदीदा “लेख सूची”,
मनपसंद चिट्ठे से नए लेख का सूचक,
सांकेतिकशब्द सम्बन्धित नए लेखों का सूचक

मेरा खाता
“मैं” में अपने बारे में लिखें और कूटशब्द बदलें,
“मेरी तस्वीर” में तस्वीर चढ़ाएँ,
“मेरे चिट्ठे/मेरे औज़ार” में अपने चिट्ठे शामिल करें और अधिकृत करें,
चिट्ठाकार उपयोगी औज़ार कड़ी लें,
“पसंदीदा चिट्ठे, पसंदीदा लेख, चिट्ठे सूचक, सांकेतिकशब्द सूचक” में आपके
द्वारा बनाई गई सूची का प्रबन्ध करें।

सांकेतिकशब्द सम्बन्धित लेखों को एक साथ देखना
जैसेः – http://www.chitthajagat.in/?shabd=कश्मीर
बौछार(feed) – http://www.chitthajagat.in/feed.xml?shabd=कश्मीर

चिट्ठों को सक्रियता क्रं० देना

पिछले १० दिनों से धड़ाधड़ छाप रहे चिट्ठाकारों की सूची

चिट्ठाकार के लेख एक साथ देखना
जैसेः – http://www.chitthajagat.in/?chitthakar=raviratlami
बौछार(feed) – http://www.chitthajagat.in/feed.xml?chitthakar=raviratlami

किसी भी चिट्ठे के लेख एक साथ देखना
जैसेः – http://www.chitthajagat.in/?chittha=http://udantashtari.blogspot.com/
बौछार(feed) – http://www.chitthajagat.in/feed.xml?chittha=http://udantashtari.blogspot.com/

किसी भी चिट्ठे का उदाहरण देने वाले लेखों को साथ देखना
जैसेः – http://www.chitthajagat.in/?chitthalink=http://mohalla.blogspot.com/
बौछार(feed) – http://www.chitthajagat.in/feed.xml?chitthalink=http://mohalla.blogspot.com/

दैनिक सक्रियता, किसी भी दिन के लेखों पर आसानी से जाना
जैसेः – http://www.chitthajagat.in/?dinank=2007-07-03

चिट्ठाकार उपयोगी औज़ार

  1. मेरा चिट्ठा पसंद करें कड़ी, (मेरा खाता -> “मेरे चिट्ठे/मेरे औज़ार” में),
  2. मेरे चिट्ठे की नई प्रविष्टियाँ कड़ी, (मेरा खाता -> “मेरे चिट्ठे/मेरे औज़ार” में),
  3. मेरे द्वारा रचित प्रविष्टियाँ कड़ी, (मेरा खाता -> “मेरे चिट्ठे/मेरे औज़ार” में),
  4. आपकी सक्रियता क्रं० कड़ी, (मेरा खाता -> “मेरे चिट्ठे/मेरे औज़ार” में),
  5. चिट्ठा अधिकृत करें कड़ी, (मेरा खाता -> “मेरे चिट्ठे/मेरे औज़ार” में),
  6. सांकेतिक शब्द कड़ी बनाएँ. http://chitthajagat.in/?sanketikshabd=banao

अगले लेख से एक-एक चीज़ को विस्तार से देखेंगे — शास्त्री जे सी फिलिप

Share:

Author: Super_Admin

2 thoughts on “जानें चिट्ठाजगत डॉटइन के बारे में — भाग एक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *