भोमियो: अब लिप्यांतरण भी

Bhoumiyo001 कुछ ही देर पहले http://bhomiyo.com/ ने सूचना दी है कि पाठकों की बेहद मांग पर उन लोगों ने एक उच्चारण-आधारित लिप्यांतरण सुविधा उपलब्ध करवा दी है. इसमें लगभ 11 भारतीय भाषाओं एवं अंग्रेजी का प्रावधान है. मैं ने अपने नाम प्रयोग किया तो निम्नलिखित परिणाम मिले:

— शास्त्री जे सी फिलिप
શાસ્ત્રી જે સી ફિલિપ
শাস্ত্রী জে সী ফিলিপ
ਸ਼ਾਸ੍ਤ੍ਰੀ ਜੇ ਸੀ ਫਿਲਿਪ
శాస్త్రీ జే సీ ఫిలిప
ശാസ്ത്രീ ജേ സീ ഫിലിപ
ಶಾಸ್ತ್ರೀ ಜೇ ಸೀ ಫಿಲಿಪ

इसके उपयोग के लिये कुछ बातों का ध्यान रखना होगा:

1. यह किसी भारतीय भाषा में तब ही आपको लिप्यांतरण दे पायगा जब आपके संगणक पर उस भाषा के युनिकोड फॉट हों

2. लिप्यांतरण सिर्फ यांत्रिक है, अत: उसको आधिकारिक न समझें, बल्कि सिर्फ एक उपयोगी लिप्यांतरण समझें. उदाहरण के लिये, मलयालम में मेरे नाम के लिप्यांतरण में अंतिम अक्षर में मात्रा नहीं है. इस भाषा में मात्राओं की समस्या बहुत जटिल है.

3. हिन्दी से अंग्रेजी लिप्यांतरण का उपयोग अभी न करें. उसमें काफी गलतियां हैं

इस गजब के औजार के उपयोग के सारे पहलुओं को जानने के लिये देखें: http://bhomiyo.wordpress.com/ — शास्त्री जे सी फिलिप
चिट्ठाजगत पर सम्बन्धित: सारथी-अवलोकन, सारथी, भोमियो, लिप्यांतरण्

Share:

Author: Super_Admin

7 thoughts on “भोमियो: अब लिप्यांतरण भी

  1. मेरा सुझाव है कि देवनागरी से रोमन में परिवर्तन iTrans मैपिंग के अनुरूप हो। इससे कई सुविधायें मिलेंगी और कई परेशानियों से बच भी जायेंगे।

    उदाहरण के लिये कला को kalaa, काला को kaalaa, कल को kal और काल को kaal के रूप में लिप्यंतरित करना ही अर्थ का अनर्थ करने से रोके सकेगा।

  2. उम्मीद है कि आपके दिग्दर्शन से इन बातों मे सुधार
    आयगा

  3. काश कोई ऐसा टूल भी बनता जो अंग्रेजी से सीधे हिन्दी में अनुवाद कर सकता। अपनी तो बल्ले बल्ले हो जाती।

  4. @सागर चन्द नाहर
    मेरी तो 10,00,000 हिन्दी ईपुस्तके प्रति वर्ष बंट रही होतीं !!!

  5. Hindi se Angreji ke liye Mantra rajbhasha naam ka tool government ne prakaashit kiya tha. Shaayad aap ko kaam lage.

    ITrans ke liye sujhav thik hai.

Leave a Reply to piyush Cancel reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *