चिट्ठे: चित्र छोटे क्यों करें — 2

400 मेरे पिछले लेख चिट्ठे: चित्र क्यों छोटे करें ! मे मैं ने बताया था कि एक चित्र को कई साईजों में दिखाया जा सकता है. लेकिन एक बडे चित्र को छोटे साईज में दिखाने से नुक्सान ही है क्योंकि चित्र का फाईल-साईज छोटा नहीं हो रहा, अत: उस सचित्र चिट्ठे को दिखने के लिये समय अधिक लगेगा. हर चिट्ठाकार को चित्र किसी ग्राफिक तंत्र की सहायता से उतना छोटा कर लेना चाहिये जितनी जरूरत है. इससे उसका फाईल साईज भी छोटा हो जायगा एवं आपका चिट्ठा कुछ और तेजी से दूसरों के संगणक पर दिखेगा.

200 इस पृष्ठ पर दिये गये पहले दो चित्रों को देखिये. दोनों में आपको किसी भी प्रकार का अंतर नहीं दिखेगा. लेकन वास्तव में एक अंतर है. पहला चित्र 400 पिक्सल चौडा है जिसे 200 पिक्सल साईज में दिखाया जा रहा है. जबकि दूसरा चित्र सिर्फ 200 पिक्सल का है.

अब असली अंतर बताते हैं. पहला चित्र 66 किलोबाईट का है जबकि उसे ग्राफिक तंत्र की सहायता से 200 पिक्सेल का करने के कारण दूसरा चित्र सिर्फ 19 किलोबाईट का है. इसका मतलब यह है कि किसी लेख में पहले के बदले दूसरा चित्र दिया जाये तो लोड होते समय 40 किलोबाईट डाटा कम लगेगा. इस कारण वह तेजी से दिखेगा.

यह मानी हुई बात है कि चिट्ठा या जालस्थल जितने तेजी से संगणक पर दिखेगा, उतना ही अच्छा होगा. आज गूगल का जालस्थल 5 सेकेंड से कम में दिख जाता है. चिट्ठाजतग.इन 10 सेकेंड से कम में दिख जाता है, एवं उनकी कोशिश 5 सेकेंड से कम में दिखाने की है. यदि दिग्गज लोग यह कर रहे हैं तो औसत चिट्ठाकार को तो इसका ध्यान और भी रखना होगा.

कल के लेख में देखें कि साईज कैसे छोटा करें. रवि जी के जिस लेख का उल्लेख मैं ने पहले लेख में दिया था उस में इस कार्य के लिये दो तंत्रों का उल्लेख है उसे आज जरूर देख लें.

Share:

Author: Super_Admin

5 thoughts on “चिट्ठे: चित्र छोटे क्यों करें — 2

  1. कई बार बडे पिक्‍सल के फोटो को छोटे पिक्‍सल में बदलने में फोटो क्‍लीयर नहीं दिखता ऐसे में हमें विवशतावश बडे पिक्‍सल के फोटो ही लगाने पडते हैं, क्‍या रिज्‍यालूशन कम करने पर कोई फर्क आयेगा ?

  2. अच्छी जानकारी… धन्यवाद्… मुझे भी कई बार चित्र लगाना होते हैं, लेकिन कहीं सामने वाले की स्पीड कम न हो जाने इसलिये टालता रहता हूँ…

Leave a Reply

Your email address will not be published.