एक व्यक्तिगत बात !!

प्रभु ने चाहा तो सितंबर 2009  में  मेरी बिटिया ‘आशा’  की शादी है. चिट्ठाजगत के सारे मित्रों का स्वागत है कि वे कोचिन पधारें और वर वधू को अपना आशीर्वाद प्रदान करें!

Asha

कल तक जो बच्ची मेरे लिये सिर्फ “गुडिया” थी वह आने वाले  कल एक जिम्मेदार पत्नी बनने जा रही है.

हम दोनों कल अपने बगीचे में खडे एक नई चिडिया को देख रहे थे कि उसके एक सहोदर ने एकदम एक अनौपचारिक चित्र लिया जो संलग्न है.

आशा बिटिया ने इसी साल एमबीए पास किया है और कोचिन के एक अंतरराष्ट्रीय कंपनी में मेनेजर-ट्रेनी थी, लेकिन विवाह से पहले अंतिम एक माह नौकरी छोड मांबाप की गुडिया के रूप में एक बार और घर बैठी है.

उसके शादी की एक विशेष बात है. लडका लडकी दोनों ही एमबीए हैं और दोनों ही पढेलिखे परिवारों के हैं. बुद्धिजीवी हैं, जम कर किताबें पढते हैं. लेकिन  विवाह-प्रस्ताव आने पर दोनों ने एक बार छायचित्र देखे, एक बार आपस में बातचीत की और उसके बाद तय किया कि वे शादी के लिये तय्यार हैं. उन्होंने यह भी कहा कि आपस में मिलनेदेखने ऐसे किसी कार्य की जरूरत नहीं है. इस निर्णय के लिए परिवारों की ओर से किसी तरह का दबाव या सुझाव नहीं दिया गया, बल्कि यह उन आधुनिक युवा युवती का निजी निर्णय है.

यदि आप को लगता है कि इक्कीसवी शताब्दी में युवा लोग अपने मांबाप की इच्छा को नहीं मान सकते तो उसका एक अपवाद है उन दोनों का यह निर्णय.

यह कोई जरूरी नहीं कि ऐसा हर परिवार में हो, लेकिन यह इस बात का एक उदाहरण है कि चाहे हम कितने भी पढेलिखे हों, उसके बावजूद यह जरूरी नहीं है कि पश्चिम का अंधानुकरण करें. बिटिया आशा के लिये आप सबके आशीर्वाद की कामना करता हूँ.

Anand

बेटा ‘आनंद’  MBBS कर चुका है, कर्नाटका में  एक अस्पताल का मेडिकल अफसर है, और आगे की पढाई कर रहा है. डाक्टरों का जीवन विचित्र है. वे हरेक को जीवनदान देते हैं लेकिन उनका अपना जीवन बडा कठिन होता है, खास कर ऐसे डाक्टरों का जीवन जो सेवा के लिये समर्पित हैं.  (बेटे के साथ यह अनौपचारिक चित्र हम दोनों की  एक सडक-यात्रा के दौरान लिया गया था)

मेरे चाचा, मेरे छोटे भाई की पत्नी, मेरी सबसे छोटी बहन और उसका पति, मेरा बेटा सभी पांचों लोग  इसी पेशे में हैं. निकट के कजिन लोगों में भी लगभग दस इसी पेशे में हैं.  सभी अपने पेशे के नामी डाक्टर हैं और  सेवा के लिये समर्पित हैं और इन में से किसी ने भी करोडों नहीं कमाया, बल्कि लोन ले लेकर मकान बनवा रहे हैं और परेशान हो रहे हैं कि कितने साल में चुका पायेंगे.  समर्पण का आनंद इन सब के जीवन में है, लेकिन उसके साथ जो “कठिन” जीवन मिलता है वह “आसान” नहीं होता है. जूलाई में मैं उसके साथ 2 हफ्ते रहा तो एक रात वह 1 बजे से 5 तक एक 70 या 80 साल के रोगी साथ बैठा रहा था जिसके लिये हरेक ने आशा छोड दी थी. सुबह उठे तो नाश्ते पर वह ऊंघ रहा था. मन को बडा दर्द हुआ, लेकिन यह है एक समर्पित डाक्टर का जीवन.

मेरे बच्चों के लिये आप सब के आशीर्वाद की कामना एक बार और करता हूँ. (हम दोनों — पति पत्नि — के बारे में किसी और अवसर पर लिखेंगे. हमारा घोसला खाली होने जा रहा है. अब आप लोगों के बच्चे कोचिन आयेंगे तो इस घोसले में उनकी सेवा करेंगे!!).

Indian Coins | Guide For Income | Physics For You | Article Bank  | India Tourism | All About India | Sarathi | Sarathi English |Sarathi Coins

Share:

Author: Super_Admin

42 thoughts on “एक व्यक्तिगत बात !!

  1. सारथी जी
    बहुत बहुत बधाई दाम्पत्य जीवन की ओर अग्रसर बिटिया को और आपको दायित्व निर्वहन के इस पडाव के लिये

  2. बहुत बहुत बधाई शास्त्री जी. खबर सुन कर आनन्द आ गया. बिटिया और होने वाले दामाद जी को बहुत शुभकामनाऐं.

  3. बिटिया को बहुत बधाई! बेटी का ब्याह उस की पसंद के वर से माता-पिता का बहुत बडा सपना है। बेटी का वैवाहिक जीवन सफल हो। बेटा सेवा करते हुए अपना जीवन सफल बनाए। इन्हीं शुभकामनाओं के साथ एक शुभकामना यह भी कि आप अपने कर्तव्यों को अच्छे से निभा पाने में सक्षम हों।

  4. आपकी बिटिया और होने वाले दामाद को बहुत सारी शुभकामनायें .

    आपका बनियान में पेन लगाने का इश्टाइल अच्छा लगा !

  5. बिटिया और होने वाले दामाद को कोटिश: बधाई और आशिर्वाद. पिता पुत्री का फ़ोटो बहुत जंच रहा है. नजर ना लगे.

    आपका घोसला कैसे खाली हो सकता है? आपने जब सभी बच्चों को अपना मा्न लिया है तो आपका घोसला तो हमारे आबाद ही रहेगा. पुन: शुभकामनाओं सहित

    रामराम

  6. कहते हैं कि ‘गुण अपने आप में पुरस्कार हैं’। और ‘पुत्र से पराजित होना दूसरा जन्म मिलने के समान (सुखदायी) है।’ आपकी संताने योग्य हैं, संस्कारवान हैं, सेवाभावी हैं – यह अपने आप किसी वरदान से कम नहीं है।

    ‘आशा’ को नये जीवन में खुशियाँ ही खुशियाँ मिलें; दाम्पत्य सुखमय हो – यही मंगलकामना है।

  7. बहुत बहुत बधाई हो शास्त्री जी. आपके परिवार को बेटी के शादी के लिये मेरी शुभकामनाएँ और बधाई। आप साधारण सी बातों को भी कितने असाधारण तरीक़े से कहने का कौशल रखते है.

    मेरे साइंस ब्लॉग को आपका आशीर्वाद मिलता रहा है जिसके लिए आभारी हूँ. अभी पिछले दिनों हिन्दी में कविताओं का एक साधारण सा ब्लॉग शुरू किया है.
    आभारी रहूँगी यदि यहाँ आप आने का समय निकालेंगे.

    http://meenukhare.blogspot.com/

  8. “कल तक जो बच्ची मेरे लिये सिर्फ “गुडिया” थी…..” सही है सारथीजी, देखते देखते बच्चे बडे हो जाते है…समय की रफ़्तार को कौन रोके!!!

    बिटिया रानी अपना परिवार सफ़लतापूर्वक सम्बाले- सहत, समृद्धि और सहभागिता से परिवार सकुशल रहे…यही कामना है।

  9. आपकी बेटी के उज्जवल भविष्य के लिए ढेरों शुभकामनायें …
    आपके बच्चों के बारे में जानकार अच्छा लगा…पश्चिमी सभ्यता का अन्धानुकरण न करने का गुण उन्हें आपसे विरासत में मिला है …
    बहुत बहुत शुभकामनायें ..!!

  10. आदरणीय शास्त्री जी. बेहद ख़ुशी का अवसर है , जिसके लिए माँ बाप जिन्दगी भर इन्तजार करते हैं,आपके परिवार , बेटी और होने वाले दामाद जी को मेरे तरफ से बहुत बहुत शुभकामनाऐं, इश्वर का आशीर्वाद हमेशा दोनों पर बना रहे इन्ही मंगल कामनाओ के साथ….

    regards

  11. एक बहन को एक भाई की तरफ से खुशहाल दाम्पत्य जीवन में प्रवेश करने के लिये अग्रिम हार्दिक शुभकामनाएं

    आपके ह्रदय की हर्षमिश्रित विछोह-वेदना को समझ सकता हूं।
    आपका घोंसला खाली हो रहा है तो क्या ? आपका ह्रदय तो लबालब है।
    सबको प्रणाम

  12. पुज्यवर शास्त्रीजी

    क्षमा करे, आप द्वारा भेजा गया बिटिया ‘आशा’ की शादी का न्योता मै कल नही पढ पाया। ये कितनी खुशी की बात है की बिटिया ‘आशा’ की शादी है- घर पर खुशीयो भरा माहोल बना हुआ है। शास्त्रीजी ! बेटी के विदा होने पर सबसे ज्यादा गम पिता को होता है, पर वो पिता होता है इसलिए अपनी लाडली के विदाई पर अपने कलेजे को मजबूत कर खूशी खूशी विदा करता है। मैरे पुरे परिवार की तरफ से बिटिया ‘आशा’ के विवाह के लिए हार्दीक मगलकामनाऍ, शुभकामानाऍ।

    आप सपरिवार खुशी के माहोल को खुब खुशीयो से व्यतित करे प्रभु से मेरी विनति है।

    मेरे लाईक कोई भी सेवाकार्य हो तो कहे।

    आपका अपना ही

    महावीर बी सेमलानी

  13. शास्त्री जी, दिल से शुभकामनायें… कोच्चि तो सम्भव नहीं है, लेकिन कभी वे लोग ग्वालियर आयें तब संयोग बन सकता है… वर-वधू को हार्दिक शुभेच्छा…

  14. शास्त्री जी, दिल से शुभकामनायें… कोच्चि तो सम्भव नहीं है, लेकिन कभी वे लोग ग्वालियर आयें तब संयोग बन सकता है… वर-वधू को हार्दिक शुभेच्छा… आप वाकई सौभाग्यशाली हैं…

  15. आपकी बिटिया और होने वाले दामाद को बहुत बहुत बधाई……..

  16. शास्त्री जी बेटी की शादी के लिए आपको बहुत बधाई और आपकी बेटी को आशीर्वाद। सुखी पारिवारिक जीवन की यह झांकी दिखाने के लिए भी आभार। यह हम सबके लिए प्रेरणादायक है।

  17. देर से देख रही हूँ ..आशा को भावी जीवन के लिए हार्दिक शुभकामनायें…

  18. Wishing you and all family members a heartfelt congratulations in advance.As far as profession of DAMAD sahib is concerned, yes I fully agree that in this era Medical profession for the purpose of serving human kind is good , he will also follow the same traditional values of family., but sir, don’t mind the personnal life of a doctor is Zero, that my experience of 29 years speaks itself. Anyhow Again congrates !!
    Dr. Mukesh Raghav

  19. आशाजी को विवाह की और सुखी भावी जीवन की शुभकामनायें, उनका दाम्पत्य जीवन हमेशा सुखद रहे; कामना करते हैं।
    @शास्त्रीजी
    आपके मन की हालत समझी जा सकती है।

    सागर, निर्मला, हर्ष और चीकू नाहर

  20. मैं मुंबई में नहीं थी इसलिए बधाई देने में समय लग गया, क्षमा चाहती हूँ |
    मेरी तरफ से आपको और आपकी बिटिया को शुभकामनाएँ और बधाई |

  21. मुझे आपके और आपके परिवार के बारे में पड़कर बहुत अच्छा लगा !
    आपको बहुत बहुत शुभकामनाये ….

  22. शास्त्री जी ,
    ना जाने कैसे यह शुभ समाचार डेरी से देखे पर मन आनंद से भर गया –
    आशा बिटिया को मेरे आशिष और खूब सुखी विवाहीत जीवन के लिए ,
    मंगल कामनाएं तथा पुत्र आनंद के लिए भी आर्शीवाद –
    उसका विवाह हो गया है या नहीं ? 😉
    अवश्य बतलाएं …
    आपका परिवार सुसंकृत व सफल परिवार है ..ये स्पष्ट है ..
    बहुत बहुत बधाई !

    स स्नेह,
    – लावण्या

  23. It’s very good. I am writing it on Jan31st, 2011. Whenever you visit to delhi. Please stay at our home. We will be happy to serve you or Daughter and Son In Law..

    Regards,

    Ashok Gupta

Leave a Reply

Your email address will not be published.