हिन्दी चिट्ठाकारी (मुफ्त 25 पाठ का ईकोर्स)

चूकि संगणक एवं चिट्ठा लेखन के तंत्राश (सॉफ्टवेयर) मुख्यतया अंग्रेजी भाषा में काम करने के लिये लिखे गये हैं, अत: इन चीजों से हिन्दी में काम लेते समय कई कठिनाईयां आती है. आज जो 1000 के करीब हिन्दी चिट्ठे हैं, उनमें से आधे से अधिक इन कठिनाईयों के कारण निष्क्रिय (2 लेख प्रति माह से कम) पडे है. लेकिन यदि सही समय पर उचित मार्गदर्शन एवं सॉफ्टवेयर औजार मिल जायें तो ऐसे लोग भी चिट्ठाकारी कर सकते हैं जो संगणक पटु नहीं है. इस जरूरत को ध्यान में रख कर “सारथी” तीन प्रकार के मुफ्त ईकोर्स इस विषय पर प्रस्तुत करने जा रहा है. ये हैं

  • हिन्दी चिट्ठाकारी प्रवेशिका कोर्स (25 मुफ्त ईपाठ)
  • हिन्दी चिट्ठाकारी माध्यमिक कोर्स (12 मुफ्त ईपाठ)
  • हिन्दी चिट्ठाकारी उच्चतर कोर्स (12 मुफ्त ईपाठ)

हिन्दी चिट्ठाकारी प्रवेशिका (25 पाठ का मुफ्त ईकोर्स) 1 अक्टूबर 2007 को उपलब्ध हो जायगा. इसका प्रस्तावित पाठ्यक्रम निम्न होगा:

1. चिट्ठा/जालस्थल क्या है (दोनों में क्या अंतर है, इन में से चिट्ठा किस काम के लिये बेहतर है?)

2. चिट्ठाकारी क्यों करें (यह महज एक अंधी दौड है या इससे कुछ मानसिक, बौद्धिक, आर्थिक फायदा है?)

3. क्या चिट्ठाकारी आप के लिये उपयुक्त शौक है (कही यह एक अनावश्यक बोझ तो नहीं होगा?)

4. पहला कदम (छोटा सा काम, लेकिन बेहद महत्वपूर्ण)

5. चिट्ठा कैसे पंजीकृत करें

6. अगला कदम, पहली रचना

7. लेख/रचना वर्गीकरण: आवश्यक्ता एवं फायदे

8.चिट्ठे का प्रचार चरण-1 (एग्रीगेटरों की सहायता से 5 से 50 पाठक प्रति दिन कैसे प्राप्त करें)

9. अगला कदम (सेवा करो तो सफल चिट्ठाकारी के लिये मेवा मिलेगा)

10. चिट्ठाकारी (तेजी कैसे पकडें: महज चहलकदमी से दौड की ओर)

11. हर दिन चिट्ठे पर एक नई रचना (असंभव, लेकिन सफल चिट्ठाकर यह कैसे करते हैं?)

12. चिट्ठे का प्रचार चरण-2अ (एग्रीगेटरों की सहायता से 50 से 200 पाठक प्रति दिन कैसे प्राप्त करें)

13. चिट्ठे का प्रचार चरण-2ब (एग्रीगेटरों की सहायता से 50 से 200 पाठक प्रति दिन कैसे प्राप्त करें)

14. रोज लिखने के लिये नये एवं आकर्षक विषय कैसे ढूढें? (आप जरूरत से 10 गुना अधिक विषय ढूढ सकते हैं)

15. चिट्ठे का प्रचार चरण-3 (कडियों की मदद से 200 से 500 पाठक प्रति दिन कैसे प्राप्त करें)

16. चिट्ठे का प्रचार चरण-4 (खोज यंत्रों की मदद से 500 से 1000 पाठक प्रति दिन कैसे प्राप्त करें)

17. अपने चिट्ठे को सचमुच कैसे हिट करवायें?

18. लेखों को जनोपयोगी बनाने का रहस्य क्या है?

19. शीर्षकों को चुंबकीय आकर्षण कैसे दें?

20. वफादार पाठक कबाडने का रहस्य!

21. कर भला तो हो भला — टिप्पणीशास्त्र 1

22. कर भला तो हो भला — टिप्पणीशास्त्र 2

23. ऑनलाईन/ऑफलाईन काम करने का तनाव कैसे खतम करें?

24. यूनिकोड तिलिस्म का रहस्य!

25. ऑफलाईन एवं ऑनलाईन चिट्ठाकारी

हिन्दी चिट्ठाकारी मे जो प्रवेश करना चाहते हैं उनके लिये यह कोर्स एक वरदान सिद्ध होगा. जो पहले से चिट्ठाकारी कर रहे हैं वे भी लाभान्वित होंगे. याद रखें कि इस कोर्स में दी गई जानकारी ही “सारथी” की सफलता का रहस्य है. सारथी चालू होने के तीन महीने में 100,000 हिट प्रति महीना एवं 30,000 पेज-पाठ प्रति महीना पहुंच गया था. सितंबर 2007 में यह 40,000 पेज-पाठ तक पहुंचने की संभावना है. क्यों न ये गुर आप भी सीख लें. कृपया कोर्स की सूचना के लिये सारथी पर नजर रखें.

Share:

Author: Super_Admin

6 thoughts on “हिन्दी चिट्ठाकारी (मुफ्त 25 पाठ का ईकोर्स)

  1. प्रिय रवि एवं मसिजीवी,

    प्रोत्साहन के लिये आभार. यह कोर्स मेरे स्वप्न का हिस्सा है. स्वप्न है:

    मेरा स्वप्न: सन 2010 तक 50,000 हिन्दी चिट्ठाकार एवं,
    2020 में 50 लाख, एवं 2025 मे एक करोड हिन्दी चिट्ठाकार!!

  2. शास्त्री जी आश्चर्य है कि कभी मैंने भी इस तरह की ईबुक की कल्पना की थी, परंतु समयाभाव से काम ठंडे बस्ते में चला गया।

    खैर आप यह कार्य पूर्ण उत्साह से कर रहे हैं, मेरी शुभकामनाएँ स्वीकारें।

  3. सारथी जी बहुत बहुत धन्यवाद इस कोर्स को यहां लाने के लिए । हम नजर रखे है आप की पहली क्लास का इंतजार है

  4. शास्त्री जी ध्यान से देखने पअर पता चला कि ये पोस्ट तो सेपटेम्बर की है तो फ़िर ब्लोग्वाणी पर आज क्यूं दिख रही है क्या दोबारा ये कोर्स चलाने वाले है

Leave a Reply

Your email address will not be published.