आजादी एक्सप्रेस — 1

हिन्दी चिट्ठाजगत के एक आवारे बंजारे ने पहली बार आजादी एक्सप्रेस की खबर दी थी (आज़ादी एक्स्प्रेस रायपुर में-1). इस रेलगाडी मे स्थित प्रदर्शनी का स्वागत कई चिट्ठाकरों ने किया. इस वर्णन को आगे बढाया घायल हुई सोने की चिड़िया में अनीता कुमार जी ने. सबसे आखिर में ममता जी ने आजादी एक्सप्रेस एक झलक द्वारा एक झलक दिखाई. कल यह प्रदर्शिनी कोच्चि (एर्णाकुलम जंकशन) पर पहुंची एवं आज काफी समय इसमें बिताने का मौका मिला.

पेश है चित्रों की पहली किश्त. यदि आपका डायलप कनेक्शन है तो कृपया लोड होने के लिये 3 से 5 मिनिट इंतजार करें. चित्र लेना काफी कठिन था, एवं काफी उन्नत किस्म के केमरे के बावजूद की बार चित्र स्पष्ट न आ सके.

 

 

बाकी चित्र कल प्रदर्शित होंगे, लेकिन आज टिप्पणी देने के लिये मनाही नहीं है !!!

Share:

Author: Super_Admin

7 thoughts on “आजादी एक्सप्रेस — 1

  1. हम तो घर बेठे ही आजादी एक्सप्रेस के बारे बहुत कुछ जान गये,ओर आज देख भी ली,अति सुन्दर,बाक़ी चित्रो का इंतज़ार रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.